vishal panwar August 19, 2020


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बांदा
Updated Wed, 19 Aug 2020 08:32 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

संदिग्ध हालात में गुजरात से आई युवती का शव पेड़ में साड़ी के फंदे पर लटका पाया गया। घर के लोग उसे मानसिक रूप से बीमार बता रहे हैं। पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है। थाना क्षेत्र के सेमरिया मिरदहा की उर्मिला (37) पत्नी उमेश श्रीवास्तव का शव बुधवार को गांव के बाहर रेलवे लाइन के किनारे महुआ के पेड़ में लटकता मिला।

सुबह खेत गए ग्रामीणों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी।  इस बीच महिला की सास आशा अपनी बहन अर्चना के साथ मौके पर पहुंच गई और शव की शिनाख्त की। पति उमेश श्रीवास्तव ने पुलिस को बताया कि उर्मिला गुजरात प्रांत के वापी की रहने वाली थी।

वह कई साल से मानसिक रूप से बीमार थी। उसका इलाज ग्वालियर में कराने के लिए यहां घर लेकर आया था। मंगलवार की रात अतर्रा स्थित मौसी के घर में सभी लोग रुके थे। तभी किसी समय उर्मिला दरवाजा खोलकर निकल गई थी।
मृतका की शादी 10 साल पहले हुई थी। आठ वर्ष का एक पुत्र है। पति उमेश मूल रूप से कालिंजर क्षेत्र के गोपरा गांव का रहने वाला है। मौजूदा में वह गुजरात में परिवार के साथ रहता है। एसएसआई अवनींद्र ङ्क्षसह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। 

अन्ना जानवरों से टकराकर बाइक सवार घायल  
जनपद चित्रकूट के जानकीकुंड का रहने वाला नरेश (28) पुत्र शिवचरण बुधवार को बाइक से रिश्तेदारी में अतर्रा आ रहा था। बदौसा रोड शांतिधाम स्कूल के पास बाइक के सामने अन्ना पशु आने जाने पर वह गिरकर घायल हो गया। यूपी-112 ने उसे सीएचसी पहुंचाया। यहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। बाइक सवार हेलमेट नहीं लगाए था।

वाहन की टक्कर से अन्ना पशु घायल 
सड़क किनारे खड़ी अन्ना गाय को किसी वाहन ने टक्कर मारकर घायल कर दिया। समाजसेवी बच्चू व सूरज पांडेय ने गाय के पैर में लगी चोट की मरहम पट्टी की और उसे गौराबाबा धाम मंदिर परिसर में रखा है।

संदिग्ध हालात में गुजरात से आई युवती का शव पेड़ में साड़ी के फंदे पर लटका पाया गया। घर के लोग उसे मानसिक रूप से बीमार बता रहे हैं। पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है। थाना क्षेत्र के सेमरिया मिरदहा की उर्मिला (37) पत्नी उमेश श्रीवास्तव का शव बुधवार को गांव के बाहर रेलवे लाइन के किनारे महुआ के पेड़ में लटकता मिला।

सुबह खेत गए ग्रामीणों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी।  इस बीच महिला की सास आशा अपनी बहन अर्चना के साथ मौके पर पहुंच गई और शव की शिनाख्त की। पति उमेश श्रीवास्तव ने पुलिस को बताया कि उर्मिला गुजरात प्रांत के वापी की रहने वाली थी।

वह कई साल से मानसिक रूप से बीमार थी। उसका इलाज ग्वालियर में कराने के लिए यहां घर लेकर आया था। मंगलवार की रात अतर्रा स्थित मौसी के घर में सभी लोग रुके थे। तभी किसी समय उर्मिला दरवाजा खोलकर निकल गई थी।



Source link

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*