vishal panwar August 22, 2020


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
– फोटो : amar ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

योगी सरकार में पहला औद्योगिक पार्क प्रदेश के मध्यांचल क्षेत्र औरैया में विकसित होगा। 380 एकड़ में फैले इस पार्क में करीब 160 औद्योगिक इकाइयों को जगह मिलेगी। इस प्रोजेक्ट पर 300 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश होने का अनुमान है।

प्रदेश सरकार ने औद्योगिक निवेश एवं रोजगार प्रोत्साहन नीति-2017 के अंतर्गत निजी औद्योगिक पार्कों की स्थापना पर कई तरह के प्रोत्साहन व सहूलियतों का प्रावधान किया है। इस नीति के अंतर्गत यूएम पावर की ओर से औरैया में 160.37 एकड़ भूमि में औद्योगिक पार्क की स्थापना का प्रस्ताव दिया गया है। 

इस पार्क में खाद्य प्रसंस्करण, धातु आधारित लेदर, रासायनिक, कांच, प्लास्टिक, ऑटो मोबाइल व लॉजिस्टिक्स सेक्टर की इकाइयां स्थापित होंगी। यह परियोजना 5-5 वर्ष के दो चरण में पूरी होगी। पहले चरण का काम वित्तीय वर्ष 2029-30 तक तक पूरी करने की योजना है। 

इस प्रोजेक्ट में औद्योगिक पार्क की अवस्थापना सुविधाओं के विकास पर 254 करोड़ रुपये और वाह्य अवस्थापना सुविधाओं पर 64 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है। पार्क में आने वाली इकाइयों के कार्मिकों को परिसर में ही आवासीय सुविधा उपलब्ध कराने की योजना है। इसके लिए हास्टल की स्थापना की जाएगी।
यूपीसीडा के एक अधिकारी ने बताया कि  निवेशक के इकाई स्थापना से संबंधित प्रस्ताव का परीक्षण हो रहा है। इसमें पार्क के लिए चिह्नित भूमि का कृषि उपयोग बदलकर औद्योगिक किया जाना है। इसके अलावा नीति के अनुसार निवेशक को स्टांप ड्यूटी पर छूट व अन्य वित्तीय सुविधाओं से जुड़े लाभ के प्रस्ताव पर निर्णय होना है। इस पर निवेशक से विचार-विमर्श कर कार्रवाई चल रही है।

तीन वर्ष में सिर्फ एक पार्क का प्रस्ताव
औद्योगिक निवेश एवं रोजगार प्रोत्साहन नीति-2017 बनने के बाद पिछले तीन वर्ष में यूपीसीडा के जरिए निजी औद्योगिक पार्क की स्थापना का यह एक मात्र प्रस्ताव है। प्रदेश सरकार को प्रारंभिक रूप से यह प्रस्ताव इस वर्ष मार्च में दिया गया था। अब इससे संबंधित कार्रवाई में तेजी आई है। निवेशक ने पहले औरैया में थर्मल पॉवर प्लांट की स्थापना का प्रयास किया था। लेकिन कोयले की नियमित आपूर्ति में कठिनाई से इस प्रोजेक्ट को छोड़ना पड़ा। निवेशक अब औद्योगिक पार्क स्थापना का प्रयास कर रहा है।

योगी सरकार में पहला औद्योगिक पार्क प्रदेश के मध्यांचल क्षेत्र औरैया में विकसित होगा। 380 एकड़ में फैले इस पार्क में करीब 160 औद्योगिक इकाइयों को जगह मिलेगी। इस प्रोजेक्ट पर 300 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश होने का अनुमान है।

प्रदेश सरकार ने औद्योगिक निवेश एवं रोजगार प्रोत्साहन नीति-2017 के अंतर्गत निजी औद्योगिक पार्कों की स्थापना पर कई तरह के प्रोत्साहन व सहूलियतों का प्रावधान किया है। इस नीति के अंतर्गत यूएम पावर की ओर से औरैया में 160.37 एकड़ भूमि में औद्योगिक पार्क की स्थापना का प्रस्ताव दिया गया है। 

इस पार्क में खाद्य प्रसंस्करण, धातु आधारित लेदर, रासायनिक, कांच, प्लास्टिक, ऑटो मोबाइल व लॉजिस्टिक्स सेक्टर की इकाइयां स्थापित होंगी। यह परियोजना 5-5 वर्ष के दो चरण में पूरी होगी। पहले चरण का काम वित्तीय वर्ष 2029-30 तक तक पूरी करने की योजना है। 

इस प्रोजेक्ट में औद्योगिक पार्क की अवस्थापना सुविधाओं के विकास पर 254 करोड़ रुपये और वाह्य अवस्थापना सुविधाओं पर 64 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है। पार्क में आने वाली इकाइयों के कार्मिकों को परिसर में ही आवासीय सुविधा उपलब्ध कराने की योजना है। इसके लिए हास्टल की स्थापना की जाएगी।



Source link

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*