vishal panwar August 23, 2020


अजय ओझा, बांसवाड़ा: जिले में पिछले 30 घंटों से लगातार बरसात का दौर जारी है. जिले में अब तक 16 इंच बरसात हो चुकी है, जिससे जनजीवन पूरी तरह से प्रभावित हो चुका है. 

जिले के सभी नदी-नाले पूरी तरह से उफान पर है. जिले का सबसे बड़ा माही बजाज सागर बांध भी पूरी तरह से भरने लग गया है. बांध का लेवल 278.20 मीटर तक पहुच गया है. कभी भी बांध के गेट खोले जा सकते हैं. वहीं सुरवानीया बांध पूरी तरह से भर गया हैं और चार गेट इसके खोल दिए गए हैं. 

यह भी पढ़ें– जालोर में झमाझम बरसे बादल, देर शाम तक छाया मानसून

 

इतना ही नहीं, जिले के सभी झरने चालू हो चुके हैं. जिले के कई गांवों का संपर्क एक-दूसरे से कट सा गया है. दर्जनों पुल पर पानी की चादर चल रही है. इतना ही नहीं, कई जगह पुल टूट गए हैं और सड़कों में कटाव आ गया है. जिले में बरसात से दो बड़े हादसे हुए, जिसमें एक सीमेंट से भरा ट्रक नदी में बह गया, जिसमें चालक और खल्लासी ने तैरकर अपनी जान को बचाया. वहीं, दूसरा हादसा जालिमपुरा में अनास नदी पर हुआ, जहां पर अस्थि विसर्जन करने आए 6 लोग अनास नदी में फंस गए. इसमें एक तैरकर बाहर आ गया और एक का शव पुलिस को मिला. 

वहीं, चार लोग नदी के बहाव में पूरी तरह से बह गए. अबतक इनका पता नहीं चल पाया है. जिले में हो रही बरसात से जिला प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट मोड पर है और सभी अधिकारियों को मुख्यालय पर रहने के निर्देश दिए हैं. शहर में नगर परिषद सभापजि जेनेन्द्र त्रिवेदी भी पल पल की अपडेट ले रहे हैं.

 





Source link

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*