vishal panwar August 22, 2020


रायपुर : छत्तीसगढ़ में शराब की बढ़ती खपत को लेकर बीजेपी ने भूपेश बघेल सरकार को जमकर घेरा है. पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने ट्वीट कर लिखा ”कांग्रेस सरकार के सफल प्रयासों से लॉकडाउन में शराब की लगातार बढ़ती डिमांड को देखते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को राहुल गांधी  से शराब प्रोत्साहन न्याय योजना” का शुभारंभ भी करवा लेना चाहिए.18 महीने में यही एक मात्र उपलब्धि है @INCChhattisgarh सरकार की है”

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के वार पर कांग्रेस ने भी पलटवार किया है. कांग्रेस प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि जिस रमन सिंह के समय शराब की अवैध बिक्री शुरु हुई, माफियाओं की मनमानी शुरु हुई,जिनके राज में छत्तीसगढ़ देशभर में शराब पीने के मामले में अव्वल आया,वो डॉ रमन किस मुंह से शराब पर सरकार को सलाह दे रहे हैं.

आपको बता दें कि कोरोना महामारी के दौर में एक बार फिर राज्य में शराब की जबर्दस्त खपत हो रही है और पूरे राज्य में रायपुर शराब के मामले में नंबर वन है.PRS India की ‘State of State Finances: 2019-20’ रिपोर्ट में बताया गया है कि  कोरोना के बाद लगे लॉकडाउन को जब केंद्र सरकार ने 2 महीने बाद हटाया था तब भी रायपुर अल्कोहल कंजम्पशन के मामले में नंबर वन था. उस समय राज्य की सरकार ने शराब पर 10 प्रतिशत कोरोना सेस भी लगाया था. 

ये भी पढ़ें : ग्वालियर में सिंधिया के गले में दिखा ‘कांग्रेसी’ दुपट्टा, कांग्रेस बोली- हिम्मत है तो उतारकर दिखाओ?

PRS रिपोर्ट में जारी हुए आंकड़े
दिसंबर 2019 में छपी PRS India की ‘State of State Finances: 2019-20’ रिपोर्ट के मुताबिक  छत्तीसगढ़ के 35 फीसदी से अधिक लोग शराब पीते हैं, जो इस मामले में देश के दूसरे राज्यों से अव्वल है. आंकड़ों में बताया गया कि शराब पीने के मामले में दूसरे नंबर पर त्रिपुरा और तीसरे नंबर पर पंजाब के लोग हैं. प्रति व्यक्ति खपत के आधार पर देखें तो शराब के मामले में छत्तीसगढ़ आबादी में अपने से चार गुना बड़े महाराष्ट्र से भी दोगुनी ज्यादा कमाई कर रहा है.छत्तीसगढ़ सरकार का 22 प्रतिशत रेवेन्यू सिर्फ एक्साइज ड्यूटी से ही आता है.

WATCH LIVE TV: 





Source link

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*