vishal panwar August 22, 2020


मुंबई: सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) केस की जांच में जुटी सीबीआई (CBI) की टीम शनिवार को एक्शन में नजर आई. सीबीआई की अलग-अलग टीमें मुंबई के कूपर हॉस्पिटल, बांद्रा पुलिस स्टेशन, सुशांत के घर समेत अन्य जगहों पर गईं. आज सीबीआई ने सुशांत का पोस्टमार्टम (Post Mortem)करने वाले डॉक्टरों से पूछताछ की. इसके अलावा सिद्धार्थ पिठानी को डीआरडीओ गेस्ट हाउस में बुलाकर भी पूछताछ की गई. आइए आपको बताते हैं कि आज क्या-क्या हुआ.

सीबीआई अधिकारियों (CBI Officers) की एक टीम आज सुबह 11:05 बजे मुंबई के कूपर हॉस्पिटल पहुंची. सीबीआई ने कूपर हॉस्पिटल के उन डॉक्टरों से पूछताछ की जिन्होंने सुशांत सिंह राजपूत के शव का पोस्टमार्टम किया था. इस दौरान कूपर हॉस्पिटल के डीन के अलावा सभी 5 डॉक्टर मौजूद रहे. सीबीआई की टीम करीब दो घंटे तक कूपर हास्पिटल में रही.

सूत्रों का दावा है कि सुशांत का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों ने सीबीआई की पूछताछ में बड़ा खुलासा किया है. सीबीआई के अधिकारियों ने जब डॉक्टरों से पूछा कि सुशांत के शव की कोविड रिपोर्ट आने से पहले ही पोस्टमार्टम क्यों किया गया तो डॉक्टरों ने कहा कि पोस्टमार्टम करने के लिए ऐसा कोई जरूरी नियम नहीं है कि कोविड रिपोर्ट आने के बाद ही पोस्टमार्टम किया जाए. इसमें किसी नियम का कोई उल्लंघन नहीं हुआ है.

सीबीआई ने अगले सवाल में डॉक्टरों से पूछा कि इस जल्दबाजी कि क्या खास वजह रही कि कोविड रिपोर्ट आए बिना ही जोखिम लेकर आपने देर रात सुशांत की बॉडी का पोस्टमार्टम कर दिया? इस पर एक डॉक्टर ने बताया कि हमने मुंबई पुलिस के निर्देश पर देर रात पोस्टमार्टम किया था. ऐसे में एक बार फिर से मुंबई पुलिस गंभीर सवालों के घेरे में है.

ये भी पढ़े- सुशांत का शव देखने अस्पताल गई थीं रिया, पोस्टमार्टम रूम तक ले जाने वाले ने किए ये खुलासे

इसके बाद दोपहर 12 बजे सीबीआई ने डीआडीओ गेस्ट हाउस में सिद्धार्थ पिठानी को बुलाया. फिर दोपहर 1 बजकर 18 मिनट पर सीबीआई कूपर हॉस्पिटल से डीआरडीओ गेस्ट हाउस पहुंची. यहां सिद्धार्थ पिठानी से पूछताछ की गई.

फिर सीबीआई की टीम सुशांत सिंह राजपूत के बांद्रा स्थित घर पर दोपहर 2:30 बजे पहुंची. सीबीआई  टीम के साथ सिद्धार्थ पिठानी, कुक नीरज और दीपेश सावंत भी थे. यहां सीबीआई टीम ने क्राइम सीन रिक्रिएट करके ये समझने की कोशिश की कि सुशांत की मौत कैसे हुई होगी. इस दौरान सेंट्रल फॉरेंसिक साइंस लैब की एक्सपर्ट टीम भी सीबीआई के साथ थी.

तकरीबन साढ़े 6 घंटे तक सीबीआई और फॉरेंसिक एक्सपर्ट ने सुशांत सिंह राजपूत के डुप्लेक्स घर की पूरी तरह से तहकीकात की. इस दौरान फॉरेंसिक एक्सपर्ट और सीबीआई की टीम ने सुशांत के घर की छत पर भी चारों तरफ मुआयना किया. सुशांत सिंह राजपूत के घर से सबूत के रूप में कई सीलबंद लिफाफे भी सीबीआई ने अपनी तहकीकात के दौरान लिए हैं.

सीबीआई ने इस दौरान मुंबई पुलिस के उन अधिकारियों और पुलिस कर्मचारियों को भी सुशांत सिंह राजपूत के घर पर बुलाया जो 14 जून को पहली बार सुशांत के घर पर घटना के बाद पहुंचे थे.

 





Source link

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*